Sunday, April 21, 2013

11


राज़ हमसे ना ये अब छुपाया जायेगा 
दीवाना किस्सो मे हकीकत सुनायेगा . 
ये सोच के मुहब्बत की नहीं हमसे ,
शायर है आखिर कितना कमायेगा !! 

तेरी आदत मेरी शिद्दत का इम्तेहां लेती है 
अब जाने भी दे- और कितना आज़माएगा 
कर ले इश्क़ यहाँ कुछ हराम नहीं होता 
खुदा भी इंसान है ,समझ जायेगा !

मेरी हिम्मत की बात कभी करना मत 
सिर्फ इशारों मे ही जंग हार जायेगा 
मेरी माफी मेरी जीत का सबब है साहब 
मुहब्बत कर, खुद ब खुद जान जायेगा !

2 comments:

  1. खुदा भी इश्क तो करता है ... ओर समझता भी है ...

    ReplyDelete
  2. sundar gazal, तेरी आदत मेरी शिद्दत का इम्तेहां लेती है
    अब जाने भी दे- और कितना आज़माएगा
    कर ले इश्क़ यहाँ कुछ हराम नहीं होता
    खुदा भी इंसान है ,समझ जायेगा !

    मेरी हिम्मत की बात कभी करना मत
    सिर्फ इशारों मे ही जंग हार जायेगा
    मेरी माफी मेरी जीत का सबब है साहब
    मुहब्बत कर, खुद ब खुद जान जायेगा !

    ReplyDelete

Recent

42

हर बात पे अब बात नहीं की जाती बात ये है के अब बात नहीं की जाती   सुनते हैं उसको भी चुपचाप देखा लोगों ने और हमसे भी कोई बात नहीं की जाती जि...

Popular